अरपा नदी में जलकुंभी की सफाई अभियान आज से शुरू

बिलासपुर 1 मार्च। कलेक्टर डाॅ. संजय अलंग के निर्देश पर बिलासपुर शहर की जीवनदायिनी अरपा नदी में फैले जलकुंभी को हटाने का अभियान शुक्रवार से शुरू किया गया है। कलेक्टर ने छठ घाट में जाकर जलकुंभी सफाई कार्य का जायजा लिया और नगर निगम के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

कलेक्टर ने निर्देशित किया कि नदी से जलकुंभी सफाई अभियान सतत रूप से जारी रखें। इस कार्य में स्वयं सेवी संस्थाओं, व्यापारियों, लायंस क्लब, एवं अन्य सामाजिक संगठनों का सहयोग भी लिया जाएगा। इस कार्य के लिए आवश्यक दस्ताने गमबूट, होमगार्ड के गोताखोरों की व्यवस्था के लिए निर्देश दिये गये। नगर निगम के कार्यपालन यंत्री पी.के.पंचायती ने बताया कि अरपा नदी के लगभग 12 किलोमीटर क्षेत्र में फैले जलकुंभी को हटाने का अभियान प्रारंभ कर दिया गया है। वर्तमान में शहर के मछुआरों से संपर्क कर 40 मछुआरों को इस कार्य में लगाया गया है। साथ ही निगम में कार्यरत सफाई कामगारों एवं डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन करने वाले एजेंसी के कर्मियों का भी सहयोग लिया जा रहा है। दो जेसीबी मशीन भी जलकुंभी हटाने के कार्य में लगे हुए हैं। निकाले गये जलकुंभी को कछार में डंप किया जाएगा। इस कार्य में सिंचाई विभाग, होमगार्ड और पीएचई विभाग की मदद भी ली जाएगी। कलेक्टर द्वारा सहायक कलेक्टर कुणाल दुदावत को इस अभियान के सतत निरीक्षण की जिम्मेदारी दी गई।

मच्छर नियंत्रण के लिए कार्यवाई जारीः-
कलेक्टर के निर्देश पर नगर निगम सीमा में मच्छर नियंत्रण हेतु सघन अभियान जारी है। नगर निगम के स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. आंेकार शर्मा ने बताया कि नगर निगम के 30 वर्ग किलोमीटर फैले क्षेत्र में 145 किलोमीटर नालियांे की सफाई कर लार्वा कंट्रोल उपाय द्वारा टेमीफास्ट एंटीलार्वा कीटनाशक दवाई का छिड़काव किया जा रहा है। साथ ही फागिंग मशीन द्वारा नियमित रूप से डेल्टामेथिन 1.25 यू.एल.बी. (किंगफार) का छिड़काव नियमित रूप से किया जा रहा है।
नगर निगम के 59 वार्डो में नियमित रूप साफ सफाई डोर-टू-डोर कचरा उठाव तथा रात्रि में मैक्नीकल स्वीपिंग द्वारा प्रमुख मार्गो एवं गलियांे की सफाई की जा रही है। कचरों को ग्राम कछार में स्थित ठोस अपशिष्ट प्रबंधन संग्रहण केंन्द्र तक पहुचाया जा रहा है। टी.एम.एस.-20 एवं सफाई कर्मचारियों द्वारा नियमित रूप से नालियों की सफाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि अरपा नदी में किसी भी प्रकार का ठोस अपशिष्ट नहीं डाला जा रहा है।

You may have missed