डीजी मुकेश गुप्ता की स्टेनो रेखा नायर की नियुक्ति पर उठे सवाल, EOW ने एसपी को खत लिखकर मंगाई सर्विस बुक

रायपुर. डीजी मुकेश गुप्ता की स्टेनो रेखा नायर की नियुक्ति पर भी अब सवाल खड़े हो रहे हैं. ईओडब्ल्यू ने दुर्ग के एसपी को खत लिखकर रेखा नायर की सर्विस बुक मंगाई है. बता दें कि दुर्ग पुलिस ने रेखा नायर की पोस्टिंग की थी. नान घोटाले में डीजी मुकेश गुप्ता की स्टेनो रही रेखा नायर को भी आरोपी बनाया गया है.

साथ ही आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ के बहुचर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाला मामले में आरोपी रेखा नायर की मुश्किलें बढ़ गई है. बीते 2 दिन पहले ईओडबल्यू ने रेखा नायर को एक नोटिस जारी किया है. नोटिस में 7 दिन के भीतर उपस्थित होने के निर्देश दिए है. बता दें, मुकेश गुप्ता की स्टेनो रही रेखा नायर ने करोड़ों रुपए की संपत्ति आर्जित की है जिसे लेकर ईओडबल्यू ने मामला दर्ज किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक ईओडबल्यू ने आईपीएस मुकेश गुप्ता की स्टेनो रह चुकी रेखा नायर को काम पर लौटने के लिए नोटिस दिया है. नोटिस के मुताबिक रेखा नायर को सात दिन का वक्त दिया गया है. ईओडबल्यू डीजी बीके सिंह ने अखबारों में सार्वजनिक इश्तहार प्रकाशित कर रेखा नायर को अंतिम अवसर दिया है. हालांकि पहले भी कई नोटिस रेखा नायर को दी जा चुकी है. ईओडबल्यू ने रेखा नायर के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने का मामला दर्ज किया है.

गौरतलब हो कि बहुचर्चित नागरिक आपूर्ति निगम घोटाले में कथित तौर पर 36 हजार करोड़ रुपये की गड़बड़ी का आरोप है. साल 2015 में सामने आए इस घोटाले में कई हाई प्रोफाइल लोगों के शामिल होने की आशंका है. सूबे में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद मामले में नए सिरे से जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है. एसआईटी गठन के बाद तब ईओडब्ल्यू के प्रमुख रहे डीजी मुकेश गुप्ता को निलंबित कर दिया गया है. मामले में रेखा नायर को भी आरोपी बनाया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *