जांजगीर की सभा में मायावती बोलीं- मोदी की देशभक्ति पुलवामा के दिन से ही सामने आई

जांजगीर। जांजगीर में रविवार को चुनावी सभा को संबोधित करते हुए बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने कहा कि गलत नीतियों के कारण पहले कांग्रेस दिल्ली की सत्ता से विदा हुई थी और अब भाजपा की बारी है। सारी देशभक्ति भी पुलवामा के दिन से ही सामने आई।

लोकसभा चुनाव के दौरान अपने एक दिवसीय छत्तीसगढ़ दौरे पर रविवार को मायावती जांजगीर पहुंचीं। मायावती ने भाजपा के साथ-साथ कांग्रेस पर भी जमकर निशाना साधा। मायावती ने कहा कि देश की सीमाएं दोनों पार्टियों के हाथों में सुरक्षित नहीं हैं। इन लोगों ने सेना को भी नहीं छोड़ा। पहले बोफोर्स हुआ और अब राफेल कांड।

सीबीआई, ईडी, आयकर का दुरुपयोग

भीमराव अंबेडकर की जयंती पर आईं मायावती ने कहा कि सीबीआई, ईडी, आयकर जैसी केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग किया जा रहा है। बाबा साहब अंबेडकर के बताए रास्तों पर चलकर उनके अधूरे सपनों को पूरा करना है।

भाजपा संकीर्ण मानसिकता वाली पार्टी

मायावती ने कहा, भाजपा संकीर्ण मानसिकता वाली पार्टी है। उन्होंने हमेशा दलित और अल्पसंख्यकों को वोट बैंक की तरह इस्तेमाल किया। बसपा ने ठान लिया है कि नरेंद्र मोदी को सत्ता से विदा करना है।

अच्छे दिन आए नहीं, नोटबन्दी कर लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया, भाजपा सिर्फ अमीरों की पार्टी

मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि 2014 में सबसे अच्छे दिन के वादे किए थे, लेकिन वो तो आए ही नहीं। सारी देशभक्ति भी पुलवामा के दिन से ही सामने आई। ऊपर से बिना तैयारी के नोटबंदी और जीएसटी लागू कर लोगों को लाइन में खड़ा कर दिया। व्यापारियों को नुकसान उठाना पड़ा। उन पर जीएसटी की मार लगी। भाजपा सिर्फ अमीरों की पार्टी है। अंबानी और अडानी जैसे लोगों की सहयोगी है।

कांग्रेस-भाजपा में कोई अंतर नहीं

मायावती ने कांग्रेस को भी आड़े हाथों लिया। राहुल गांधी की न्याय और 72 हजार बांटने की योजना को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्र में सरकार नहीं है तो कांग्रेस ने 72 हजार बांटने का ऐलान किया है। अगर ऐसा ही है तो जिन राज्यों में उनकी सरकारें हैं, वहां से गरीबों को रुपए बांटने की शुरुआत क्यों नहीं करते। मायावती ने कहा कि कांग्रेस और भाजपा में कोई अंतर नहीं है।

अजीत जोगी थे मंच पर मौजूद

छत्तीसगढ़ में बसपा के गठबंधन में शामिल और लोकसभा चुनाव लड़ने से इनकार कर चुकी छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजीत जोगी भी मंच पर मौजूद थे। जकां प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने मंच पर मायावती के पैर छूकर आशीर्वाद भी लिया। मंच पर लोकसभा की सभी सीटों से खड़े हुए बसपा के उम्मीदवार भी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *