सड़क बंद कर मुख्यमंत्री के लिए तैयार किया जा रहा पंडाल , सिविल लाइन चौक की एक सड़क को निगम ने किया बंद


बिलासपुर छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनते ही मुख्यमंत्री बनने के बाद भूपेश बघेल ने सबसे पहले यह कहा था कि वीआईपी ट्रीटमेंट से कांग्रेस दूर रहेगी और आम जनता को किसी भी तरह वीआईपी के आगमन से परेशान नहीं होना पड़ेगा । इससे पहले प्रदेश में भाजपा की सरकार थी और तब मंत्री मुख्यमंत्री और वीआईपी नेता आने पर शहर की सड़कों को ब्लॉक कर दिया जाता था और इससे आम जनता को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ता था , लेकिन सरकार बनने के 6 महीने बाद स्वयं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपनी कही बातों को भूल गए हैं , और उनके भूलने से नुकसान यह हुआ कि अब उनकी पार्टी के नेता , प्रशासन भी इस बात को भूल कर आम जनता परेशान करने में अहम भूमिका निभा रहे है । सिविल लाइन के सामने से इमलीपारा रोड जाने के लिए यातायात थाना के पीछे से सड़क निकलती है । इस सड़क को नगर निगम ने आज बांस से बंद कर दिया है । दरअसल यहां शहीद विनोद चौबे की आदमकद प्रतिमा बनाई गई है और इसका अनावरण सोमवार को किया जाएगा । संभवतः इस अनावरण समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के शामिल होने की बात कही जा रही है और यहां पर शहीदों के सम्मान के लिए भी कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है । कार्यक्रम के लिए पंडाल तैयार किया जा रहा है और इस पंडाल के लिए यातायात थाना के पीछे से निकलने वाली सड़क को बंद कर दिया गया है । कार्यक्रम 2 दिन बाद है , लेकिन सड़क शनिवार से ही बंद कर दिया जा रहा है । जहां जनता एक ओर पहले ही सड़क बंद करने के मामले में भाजपा सरकार से परेशान थी और कांग्रेस को ताज पहनाया था वहीं कांग्रेस भी यही काम दोहरा कर आम जनता को परेशान करने में पीछे नहीं रही है । इस मामले में आम जनता का कहना था कि हर दो चार दिन में मुख्यमंत्री यहां आएंगे तो क्या इसी तरह से आम जनता को परेशान किया जाएगा । जनता कह रही है कि पिछली सरकार और इस सरकार में ज्यादा फर्क नजर नहीं आता वो भी सड़क बंद कर परेशान करती थी और ये सरकार भी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *