नंदकुमार पटेल विवि इस सत्र से चालू करने कवायद प्रारंभ, जांजगीर, रायगढ़ जिले के काॅलेज नए विवि में होंगे शामिल,,,

रायपुर राजपत्र के अनुसार बिलासपुर के अटल बिहारी बाजपेयी विश्वविद्यालय को विभाजित करके नए रायगढ़ में नंदकुमार पटेल विश्वविद्यालय खोला जाएगा। बिलासपुर विवि में अभी बिलासपुर, कोरबा, जांजगीर और रायगढ़ जिले के महाविद्यालय शामिल थे। अब नए विश्वविद्यालय में जांजगीर और रायगढ़ जिले के काॅलेज अलग हो जाएंगे।
नए विश्वविद्यालय खुलने से बिलासपुर के अटल बिहारी बाजपेयी विवि का रुतबा कम होगा। छात्र संख्या की दृष्टि से बिलासपुर विवि अभी तक प्रदेश की सबसे बड़ी यूनिवर्सिटी है। इसमें करीब दो लाख स्टूडेंट्स हैं। इनमें से रायगढ़ और जांजगीर जिले के करीब एक लाख 20 हजार विद्यार्थी हैं। याने नए विश्वविद्यालय अस्तित्व में आने के बाद बिलासपुर विवि के पास मात्र 80 हजार स्टूडेंट्स बचेंगे।
पता चला है, नए विश्वविद्यालय को मूर्त रूप देने के लिए बिलासपुर विवि के रजिस्ट्रार समेत पांच लोगों की कमेटी बना दी गई है। यह कमेटी तय करेगी कि विवि का बंटवारा कैसे किया जाए। कितने स्टाफ रायगढ़ भेजे जाएंगे, यह भी तय किया जाएगा। रायगढ़ के किरोड़ीमल इंस्टिट्यूट को भी टेम्पोरेरी तौर पर फायनल कर लिया गया है। हालांकि, कोरोना का जिस तरह फैलाव हो रहा, पाजिटिव मरीजों की संख्या भी काफी बढ़ रही है। इसको देखते हो सकता है कि रायगढ़ विवि खुलने में कुछ वक्त लगे। क्योंकि, भारत सरकार ने 31 जुलाई तक कालेजों और विश्वविद्यालयों को बंद करा दिया है। विश्वविद्यालय खुलने पर ही नए विवि का काम रफ्तार पकड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed