बिलासपुर, कोटा की सीट पर फंसा ऐसा पेंच कि कांग्रेस के केंद्रीय नेताओं को खुद आना पड़ रहा शहर, पैराशूट से उतारे जा सकते हैं प्रत्याशी

बिलासपुर। जिले में विलासपुर, बिल्हा व कोटा विधानसभा सीट पर अब तक कांग्रेस की टिकट फाइनल नहीं हो सकी है। इन सीटों पर प्रत्याशियों के चयन को लेकर पार्टी के भीतर जमकर घमासान चल रहा है। कहीं जातिगत समीकरण पर मंथन है, तो कहीं पैराशूट से प्रत्याशी उतारने व थोपने की खबर भी आ रही है।

माना जा रहा है कि बिलासपुर व कोटा में ऐसे ही प्रत्याशी उतारे जा सकते हैं। इनमें एक प्रत्याशी वो हो सकता है, जो हाल में ही मीडिया मैनेजमेंट के जरिए सुर्खियां बटोरकर पार्टी के आला नेताओं को प्रभावित करने में तकरीबन कामयाब ही रहा। हालांकि उसके पैरों तले जमीन उतनी मजबूत नहीं दिखती। न ही यहाँ की धरती से कोई पुराना नाता है। यहां के लोगों से कोई जुड़ाव भी नहीं रहा। कोई लंबा राजनीतिक संघर्ष या सक्रियता भी नहीं है। लेकिन धनबल और सेठ से ठनाठनी की नाटकीय अदा ने संगठन में बरसों से पसीना बहा रहे, और अपनी जिंदगी खपा चुके अन्य नेताओं को धूल चटा दी। राहुल गांधी ने शायद ऐसे ही लोगों को पैराशूट वाला नेता कहा है।

बहरहाल, दूसरे नेता भी इसी तरह के हैं। इनका भी अब तक कहीं अता-पता नहीं था। वो तो जैसे ही चुनाव की तारीख़ आई और नेताजी कूद पड़े मैदान में…, हर बार की तरह। इससे पहले वे पूरे 5 साल सारे कांग्रेसियों को सड़क पर धरना प्रदर्शन करते और लाठियां खाते देखते रहे, कभी अपनी एसी कार के भीतर से, तो कभी बंगले में बैठकर टीवी चैनल पर। वैसे ये बात भी राजनीतिक अनुभव वाली है। नेताजी भी यही मानते हैं, कि सड़क पर धरना प्रदर्शन करने से ही सबकुछ नहीं होता। टिकट लेने के दूसरे तरीके भी हैं, जो कहीं ज्यादा प्रभावी हैं। शायद टिकट मिल भी जाए, परिणाम पर किसी का वश चलता। वैसे नेताजी को पार्टी बदल बदलकर हारने का अनुभव भी है।

राष्ट्रीय प्रवक्ता सुरजेवाला आज करेंगे प्रेस कॉन्फ्रेंस:-

अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री रणदीप सिंह सूरजेवाला, छत्तीसगढ़ मामलों के राष्ट्रीय प्रवक्ता राधिका खेड़ा, जयवीर सिंह शेरगिल, प्रदेश मीडिया प्रभारी शैलेश नितिन त्रिवेदी के साथ 31 अक्टूबर बुधवार को दोपहर 3 बजे होटल ईस्ट पार्क में आयोजित प्रेस वार्ता में शिरकत करेंगे।
यह जानकारी जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी, प्रवक्ता अनिल सिंह चौहान एवं मो. जस्सास ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *