10923 मतों से विजयी हुए शैलेष पांडेय, कद्दावर मंत्री अमर को दी करारी शिकस्त, झूम उठे कांग्रेसी, कुछ भाजपाइयों के चेहरे भी खिले, देखिए और किस प्रत्याशी को कितने वोट मिले

खबरची, बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के कद्दावर मंत्री अमर अग्रवाल को करारी शिकस्त देते हुए कांग्रेस के नए नवेले प्रत्याशी शैलेष पांडेय ने 10923 मतों से विजयी हुए हैं। अंतिम राउंड की मतगणना के बाद कांग्रेस के शैलेष पांडेय को कुल 66881 वोट मिले हैं, जबकि भाजपा प्रत्याशी अमर अग्रवाल को 55958 वोट मिले।

बिलासपुर विधानसभा प्रदेश की सर्वाधिक चर्चित सीटों में शुमार है। वजह ये कि यहां से भाजपा के पितृ पुरूष कहे जाने वाले स्व. लखीराम अग्रवाल के पुत्र और चार बार के विधायक रहे प्रदेश के कद्दावर मंत्री अमर अग्रवाल चुनाव मैदान में थे। दूसरी वजह ये भी कि अमर अग्रवाल को मंजे हुए राजनीतिज्ञ और बेस्ट चुनावी मैनेजमेंट के लिए जाना जाता है। हाल के चुनाव को छोड़ दें, तो कभी पार्टी के भीतर उनके सामने कोई खड़ा होने की हिम्मत भी नहीं जुटा सका। एक कारण ये भी रहा, कि यहां से टिकट के लिए कांग्रेस में भी काफी मारामारी रही। अंतिम समय में कांग्रेस ने शैलेष पांडेय को अपना प्रत्याशी घोषित किया था।

हालांकि कांग्रेस ने ” वक़्त है बदलाव का” नारा बुलंद कर रखा था। इसके बावजूद उक्त कारणों के कोई खुलकर शत-प्रतिशत ये दावा नहीं कर पा रहा था, कि बिलासपुर सीट किसकी झोली में जाएगी।

कुछ लोगों का ये मानना था कि इस बार एंटी इनकंबेंसी के असर से अमर जीते तो भी अंतर बहुत कम होगा। जबकि अन्य लोग ये भी मान रहे थे, कि कांग्रेस ने बहुत देर से टिकट फाइनल की, इसलिए शैलेष को तैयारी का ठीक से मौका नहीं मिल पाएगा। फिर हर बार की तरह भितरघात की आशंका भी जताई गई। लेकिन 15 वर्षो से वनवास काट रही कांग्रेस में इस बार ऐसा कुछ नहीं हो सका। यदि एकाध ने कोशिश की भी होगी, तो उनका खुद का इतना जनाधार नहीं रहा, कि वे असर डाल सकें। कुल मिलाकर सारी आशंकाएं निराधार साबित हुईं, और एक कद्दावर मंत्री को शिकस्त देते हुए शैलेष पांडेय ने शानदार जीत दर्ज की।

कांग्रेसियों में उत्साह, कुछ भाजपाई इसलिए खुश :-

स्वाभाविक रूप से कांग्रेसी खेमे में इस जीत को लेकर जश्न और खुशी का माहौल है। लेकिन कुछ भाजपाई चेहरों पर इसलिए चमक दिख रही, कि मंत्री अमर के चलते उन्हें आगे बढ़ने, और नेतृत्व का मौका ही नहीं मिल पा रहा था। कुछ नेताओं ने तो अमर से किनारा करते हुए दूसरे भाजपा नेता का दामन भी थम लिया था।

यहां देखिए किसे मिले कितने वोट :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *