हार्दिक पटेल का कांग्रेस में जाना तय,डील हुई फाइनल,जामनगर लोकसभा सीट से चुनाव की तैयारी

गुजरात। हार्दिक पटेल जल्द ही कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। इसके साथ ही हार्दिक कांग्रेस की टिकट पर गुजरात के जामनगर लोकसभा सीट से लोकसभा चुनाव भी लड़ सकते हैं। कांग्रेस पार्टी के शीर्ष पदस्थ सूत्रों ने यह जानकारी दी।
सूत्रों ने बताया कि हार्दिक पटेल 12 मार्च को अहमदाबाद में कांग्रेस कार्य समिति की बैठक के दौरान पार्टी में शामिल होंगे। इस बैठक में कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रहेंगे। जिस जामनगर सीट से हार्दिक लोकसभा चुनाव में किस्मत आजमाना चाहते हैं वहां से फिलहाल भारतीय जनता पार्टी की नेता पूनमबेन मादम सांसद हैं।

कांग्रेस पार्टी सूत्रों के मुताबिक बैठक के बाद पार्टी के वरिष्ठ नेता वहां एक जनसभा को भी संबोधित करेंगे। गुजरात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का गृह राज्य है और कांग्रेस आम चुनाव के मद्देनजर राज्य पर पूरा ध्यान केंद्रित कर रही है। पिछले विधानसभा चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा को कांग्रेस पार्टी ने प्रदेश में कड़ी टक्कर दी थी। इसमें हार्दिक पटेल की भी अहम भूमिका थी।

देश भाजपा से छुटकारा चाहती है’

हालांकि इससे पहले 21 फरवरी को हार्दिक पटेल ने अखिलेश यादव के साथ सपा मुख्यालय में प्रेस कांफ्रेस की थी। इसमें उन्होंने उत्तर प्रदेश (यूपी) में हुए सपा-बसपा गठबंधन का स्वागत किया था और कहा कि यह गठबंधन बहुत मजबूत है जो भाजपा को यूपी में हरा सकता है। इस दौरान पटेल ने कहा, “मैं यूपी के दौरे पर हूं। प्रतापगढ़, सुल्तानपुर, मिर्जापुर व सोनभद्र गया था। लोग भाजपा के शासन से त्रस्त हैं। और उनसे छुटकारा चाहते हैं।”

हार्दिक ने कहा था कि मैं उन सभी लोगों के साथ हूं जो संविधान बचाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। केंद्र की मोदी सरकार संविधान विरोधी है। देश मोदी सरकार से नहीं संविधान से चलता है। भाजपा के लोग संविधान को नहीं मानते। पुलवामा हमले पर उन्होंने अखिलेश यादव से सीआरपीएफ जवानों को पूर्ण सैनिक का दर्जा देने की मांग उठाने की बात कही।

‘सैनिकों को शहीद का दर्जा मिले’

इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में हार्दिक पटेल ने केंद्र सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा था कि जब कोई वीवीआईपी जाता है तो 50 मिनट पहले ही सड़क बंद कर दी जाती है लेकिन सीआरपीएफ के जवान जिस सड़क से जा रहे थे उसे क्यों नहीं बंद करवाया गया। मामले की जांच होनी चाहिए और जो दोषी है उस पर कार्रवाई होनी चाहिए।

‘गुजरात मॉडल का सच ये है’

हार्दिक ने गुजरात मॉडल पर कहा कि जिस गुजरात मॉडल को पूरे देश में बेचा जाता है। उसी गुजरात के 20 जिलों में सिंचाई का पानी उपलब्ध नहीं है। इस सरकार ने गुजरात मॉडल दिखाकर देश का बुरा हाल कर दिया है। आज किसान, नौजवान व महिलाएं सभी परेशान हैं। जो भी सरकार से सवाल पूछता है उसे देशद्रोही करार दिया जाता है। हमें इन लोगों से देशभक्ति सीखने की जरूरत नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed