प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में कांग्रेस ने योगी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

0 सोनभद्र के नरसंहार की ज़िम्मेदार योगी सरकार : इम्तियाज़ हैदर

रायपुर। सोनभद्र पीड़ितों से मिलने जा रही कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को हिरासत में लिए जाने पर छत्तीसगढ़ कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग ने विरोध प्रदर्शन करते हुए शुक्रवार को रायपुर में योगी आदित्यनाथ का पुतला दहन किया।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेशाध्यक्ष सैय्यद इम्तियाज हैदर ने कहा, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में पुलिस ने योगी सरकार इशारे पर हिरासत में लिया गया है।

उनके इस कृत्य से ये पता चलता है कि वो मज़लूम ,ग़रीब, पीड़ित लोगो के ख़िलाफ़ है, और जो उनके प्रति सहनुभूति और न्याय की मांग कर रहे हैं, उन्हें हिरासत में लिया जा रहा है।

छत्तीसगढ़ अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन सैय्यद इम्तियाज़ हैदर ने प्रियंका गांधी को बग़ैर वारंट के हिरासत में लिए जाने की निंदा करते योगी आदित्यनाथ का फूका। कहा, कि हम कांग्रेस के लोग है, हमने हमेशा से ही ग़रीबो के हक़ की लड़ाई लड़ी है, पहले अंग्रेज़ो से और अब अन्याय के ख़िलाफ़ लड़ रहे है, और लड़ते रहेंगे।

सोनभद्र में आदिवासियों के साथ जो हुआ वह बहुत ही गलत हुआ है, वहां लोग मारे गए हैं, उनकी हत्या की गई है, वह अपना अधिकार मांग रहे थे। उस जमीन को वह पुश्तों से जोत रहे हैं, औऱ उस जमीन पर अवैध कब्जा किया जा रहा था, क्या ऐसे ही अपराध मुक्त उत्तर प्रदेश की बात करते हैं योगी?
उन्हें यह बताना चाहिए कि प्रियंका गांधी को पीड़ितों से मिलने से क्यों रोका जा रहा है। योगी सरकार की यह कार्यवाही लोकतंत्र की हत्या और सत्ता की मनमानी है।
सोनभद्र में जो ये नरसंहार हुआ है, उसकी ज़िम्मेदार सिर्फ और सिर्फ योगी सरकार ही है।

सैय्यद इम्तियाज़ हैदर ने योगी सरकार से इस्तीफे की मांग करते हुए प्रियंका गांधी को रिहा कर पीड़ित परिवार से तुरंत मिलने की व्यवस्था किये जाने और पीड़ित परिवार को न्याय और राहत प्रदान करने की मांग भी की गई।

इस प्रदर्शन में अल्पसंख्यक जिलाध्यक्ष परवेज़ अहमद, प्रदेश उपाध्यक्ष रंजोध सिंह गिल, हैदर अली, प्रदेश महामंत्री तेजिंदर सिंह होरा, मो. सरोश, रिजवान हमीदी, अशफाक हैदर, तफज्जुल हुसैन, वसी हैदर, दिलशाद हुसैन अकील हैदर, हसन असगर ,सैयद शफीक, जुबेर आलम, जसपाल सिंह, शहाबुद्दीन अली, आफताब भाई, हरजीत सिंह, जसविंदर बल, हैप्पी बाजवा, मोहम्मद हबीब, जुनैद सिद्दीकी, शादमान अली, सिकंदर अली, नाजिम, जिया मन्नान, एवं अल्पसंख्यक विभाग के सभी कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *