गौ वंश की आत्मा की शांति और क्षेत्र को प्रकोप मुक्त करने किया गया 54000 गायत्री मंत्रो का जाप एवं एक कुंडिय यज्ञ : हर्षिता

तखतपुर विगत दिनों बड़ी संख्या में हुई 54 गौ वंश की अकाल मृत्यु की शांति के लिए आज बेलपान में नर्मदेवेश्वर प्रांगण में 54 हज़ार गायत्री मंत्रों के साथ यज्ञ का आयोजन किया गया। ऐसी मान्यता है कि गौ माता की हत्या से क्षेत्र को किसी अनिष्ट की आकांशा को देखते हुवे तखतपुर को किसी भी तरह के अनिष्ट एवं अमंगल से बचाया जा सके इसलिए स्थानीय नागरिकों ने आज ये आयोजन किया। इसके अंतर्गत आज सुबह से ही गायत्री मंत्र का जाप किया गया। 54000 गायत्री मंत्रों के जाप के साथ एक कुंडिय गायत्री यज्ञ गौ माताओं की आत्मा की शांति और क्षेत्र को दोष मुक्त श्मुक्त करने यज्ञ में आहुति दी गयी।
उल्लेखनीय है की मेड़पार में ठूंस ठूँस कर भर दिए जाने जे कारण 54 गौ वंश ने दम घुटने से दम तोड़ दिया था।

You may have missed